सबसे अच्छे Forex ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म

शेयर मार्केट की पूरी जानकारी

शेयर मार्केट की पूरी जानकारी
Mutual fund investments are subject to market risks. Please read the scheme information and other related documents carefully before investing. Past performance is not indicative of future returns. Please consider your specific investment requirements before choosing a fund, or designing a portfolio that suits your needs.

शेयर मार्केट को कैसे समझें | शेयर बाजार से पैसे कैसे कमाए

आज हम इस पोस्ट में शेयर मार्केट के बारे में, शेयर मार्केट को कैसे समझें, शेयर बाजार से पैसे कैसे कमाए , शेयर मार्केट में ट्रेडिंग कैसे करे इन सभी टॉपिक के में जानेंगे और आपको हम शेयर मार्केट का पूरा ज्ञान देंगे|

अगर आप शेयर मार्किट में invest करके पैसा कमाना चाहते है और आप शेयर मार्केट को कैसे समझे यह जानना चाहते है तो आप इस पोस्ट को ध्यान से पढियेगा जिसमे हम आपको शेयर मार्केट से सम्बंधित जानकारी देने वाले है|

जिन लोगो को शेयर मार्केट के बारे में कुछ नही पता उनको मै ये बताना चाहूँगा की शेयर मार्केट को ही हम स्टॉक मार्केट कहते है| तो आप कभी इन विषयों में उलझियेगा नही की स्टॉक मार्केट क्या होता है|

शेयर मार्केट को तीन नाम से जाना जाता है:-

  1. Share Market
  2. Stock Market
  3. Equity Market

तो चलिए अब हम शेयर मार्केट को कैसे समझे समझते है|

शेयर मार्केट क्या होता है ?

शेयर मार्केट वह जगह है जहाँ हम किसी कंपनी के शेयर को खरीदते या बेचते है|

शेयर मार्केट में हमे किसी कंपनी के शेयर को पैसे लगा कर खरीदना होता है और अगर उस कंपनी को प्रॉफिट हुआ तो हमारा भी प्रॉफिट होगा और अगर उस कंपनी का loss हुआ तो हमारा भी लोस होगा|

आप कंपनी के जितने परसेंट शेयर को खरीदेंगे आप उस कंपनी के उतने परसेंट owner कहलायेंगे|

इन बातो को पढ़ कर आपके मन में ये सवाल आ रहा होगा की शेयर क्या होता है तो अब हम जानेंगे की शेयर क्या होता है|

अगर आप भी शेयर मार्किट में या म्यूच्यूअल फण्ड में इन्वेस्ट करना चाहते है तो आप GROW APP का इस्तेमाल क्र सकते है मैं भी इसी app के मदद में शेयर मार्किट में इन्वेस्ट करता हूँ – DOWNLOAD GROW APP GET 100

आप अगर मेरे लिंक से इसे डाउनलोड करेंगे तो आपको 100 रूपए का bonus भी मिलेगा |

शेयर क्या होता है ?

शेयर का मतलब होता है हिस्सा | बड़ी-बड़ी कंपनी शेयर मार्किट का इस्तेमाल इस लिए करती है ताकि उन्हें शेयर मार्केट की पूरी जानकारी अपनी कंपनी चलाने के लिए ज्यादा से ज्यादा पैसा मिल सके|

शेयर खरीद कर के आम इंसान बैठे बैठे लाखो रुपये कम सकता है लेकिन ये इतना आसन नही है जितना लोग इससे जानते है|

शेयर मार्केट में invest करने के लिए आपको इसके बारे में पूरी जानकारी होनी चाहिए तभी आप इसमें पैसा कम सकते है|

अपने कंपनी के शेयर बेचने के लिए कंपनी को कुछ नियमो का पालन करना होता है और गवर्नमेंट कुछ ही कंपनी को ये इज्जाजत देती है की वो अपने कंपनी के शेयर को बेचे|

अगर सरकार कुछ कठोर नियम नही लगाती तो बहुत सारी कंपनी शेयर के नाम पर लोगो को बेव्कुफ्ह बना देती|

कुछ नई कंपनी ऐसे होते है जो बहुत जल्दी फेमस हो जाते है और शेयर होल्डर का बहुत फायदा होता है जबकि कुछ कंपनी ऐसे है जो डूब जाती है जिनसे उनके शेयर होल्डर का नुकशान हो जाता है|

इसलिए किसी भी शेयर को खरीदने के पहले शेयर मार्केट को कैसे समझे ये जानना बहुत जरुरी होता है|

शेयर होल्डर किसे कहा जाता है?

जो लोग किसी कंपनी के शेयर को खरीदते है उन्हें उस कंपनी का शेयर होल्डर कहा जाता है|

शेयर मार्केट को कैसे समझे ?

शेयर मार्केट आज से 400 साल पहले से ही लाया गया था| हर देश को चलाने में शेयर मार्केट का बहुत बड़ा योगदान है इसलिए लोग इसको एक बार जानना चाहते है|

शेयर मार्केट के जानने या समझने के लिए आपको इसके बारे में ज्यादा से ज्यादा जानकारी लेनी चाहिए जिससे की आप शेयर मार्केट को एकदम अच्छे से समझ सके|

अगर आपको लगता है की शेयर मार्केट में पैसा लगने से आदमी सिर्फ आमिर ही बनता है तो आप गलत सोचते है शेयर मार्केट में आपके पैसे का नुकसान भी हो सकता है|

लेकिन आपको शेयर मार्केट में लॉन्ग टर्म के लिए invest जरुर करना चाहिए जिससे आपको कुछ प्रॉफिट जरुर होगा|

अगर आपको शेयर मार्केट के बारे में ज्यादा समझ ना हो तो आप उसमे invest करने से पहले एक बार किसी ऐसे आदमी से बात जरुर करले जो इन्वेस्टमेंट के बारे में जानकारी दे सके|

म्यूच्यूअल फण्ड भी इसी तरह से काम करता है आप म्यूच्यूअल फण्ड में कुछ पैसे लगते है तो वो लोग आपके पैसे को ऐसे कंपनी में लगते है जहा आपका फायदा हो सके और इसके लिए वो आपसे कुछ commision लेते है| म्यूच्यूअल फण्ड के बारे में जानकारी मै आपको अगले पोस्ट में दूंगा |

स्टॉक एक्सचेंज क्या होता है?

शेयर मार्केट के बारे में जानने के लिए आपको स्टॉक एक्सचेंज के बारे में भी पता होना चाहिए| स्टॉक एक्सचेंज वह जगह है जहा कंपनी अपने शेयर को बेचती है और लोग उसके शेयर को खरीदते है|

शेयर मार्केट में invest कैसे करे?

शेयर मार्केट तो तरह के मार्केट से मिलकर चलता है-

Primary market– जहाँ कंपनी अपने शेयर को बेचती है उस मार्केट को हम प्राइमरी मार्केट कहते है|

Secondary market-जहाँ लोग कंपनी के शेयर को खरीदते है उस मार्केट को हम सेकंड्री मार्केट कहते है|

सेकेंडरी मार्केट में कंपनी अपने शेयर प्राइस को कण्ट्रोल नही कर सकती , यह शेयर प्राइस कंपनी के डिमांड और सप्लाई पर निर्भर रहता है|

कंपनी कभी भी अफो 100% शेयर नही बेच सकती|

किसी भी कंपनी के शेयर को खरीदने के लिए आपके पास Demat Account होना जरुरी है|

Demat Account क्या होता है ?

Demat अकाउंट एक ऑनलाइन अकाउंट होता है जिसमे हम किसी कंपनी के शेयर को खरीद कर उसमे रखते है| demat अकाउंट खोलने के लिए हमे अपने कुछ इम्पोर्टेन्ट डॉक्यूमेंट देने होते है,demat अकाउंट खुलने में हमे १० दिन तक का समय लगता है|

कुछ लोग होते है जो demat अकाउंट खोल कर बहुत सारे लोगो के लिए उस demat अकाउंट का इस्तेमाल करके शेयर खरीदते और बेचते है जिन्हें हम स्टॉक ब्रोकर कहते है |

ब्रोकर किसे कहते है ?

ब्रोकर हम उन्हें कहते है जो एक आम इंसान को शेयर खरीदने में मदद करते है| ब्रोकर के पास शेयर मार्केट के बारे में अच्छी जानकारी होती है आप उनके हेल्प से शेयर मार्केट में invest कर सकते है| इसके लिए ब्रोकर आपसे कुछ commission भी लेते है|

अगर आप शेयर मार्केट में ब्रोकर के मदद से invest करना चाहते है तो इसके लिए आपको किसी अच्छे ब्रोकर की तलाश करनी होगी| जैसा की मैंने आपको पहले ही बताया है की म्यूच्यूअल फण्ड भी एक ब्रोकर का ही काम करती है|

शेयर मार्केट में ट्रेडिंग कैसे करे?

आज इन्टरनेट पर बहुत सारे ऐसे प्लेटफार्म आ गये है जिनकी मदद से आप बहुत आसानी से शेयर मार्केट की पूरी जानकारी शेयर मार्केट में ट्रेडिंग कर सकते है|

शेयर मार्केटिंग में ट्रेडिंग करने का मतलब ये है की आप किसी कंपनी के शेयर को ख़रीदे और कुछ घंटो या दिन में जैसे ही कंपनी का शेयर थोड़े से बढ़े अपने उस कंपनी के शेयर को बेच दिया|

ट्रेडिंग करने के लिए आपको बस शेयर को सही समय पर खरीदना और सही समय पर बेचना होता है|

शेयर मार्केट में ट्रेडिंग करने के लिए आपको कंपनी के शेयर को हमेशा चेक करना पड़ता है की कब कंपनी के शेयर बढ़ रहे है और कब कंपनी के शेयर घट रहे है |

कंपनी के शेयर के बारे में जानकारी कैसे पाए ?

कंपनी के शेयर्स उपर जा रहे है या नीचे आ रहे है इसके बारे में हमे सेंसेक्स और निफ्टी से जानकारी मिलती है|

सेंसेक्स हमे बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज के टॉप ३० कंपनी के एवरेज ट्रेंड को बताता है|

निफ्टी हमे नेशनल स्टॉक एक्सचेंज के टॉप 50 कंपनी के बारे में बताता है|

अगर आप भी अपने कंपनी के शेयर्स बेचना चाहते है तो इसके लिए आपको अपनी कंपनी आईपीओ में रजिस्टर करवानी होगी और ये प्रोसेस बहुत बड़ा और complicated होता है|

शेयर मार्केट में invest करने से पहले आप उसके बारे में अधिक से अधिक जान ले ये आपके लिए बेहतर रहेगा| इसके लिए आप इन्टरनेट पर शेयर मार्केट या शेयर मार्केट को कैसे समझे सर्च कर सकते है|

SEBI-सिक्यूरिटी एंड एक्सचेंज बोर्ड ऑफ़ इंडिया

इसका काम उन कंपनी पे नज़र रखना है जो स्टॉक एक्सचेंज में सामिल है|

निष्कर्ष –

मुझे उम्मीद है की शेयर मार्केट के बारे में समझने में ये ब्लॉग आपके लिए मददगार साबित होगा| आज हमने शेयर मार्केट क्या है, शेयर क्या है, शेयर मार्केट को कैसे समझे, शेयर मार्केट में कैसे invest करे, शेयर मार्केट में ट्रेडिंग कैसे करे in सभी विषयों के बारे में अच्छे से जान लिया है|

अगर आप हमसे कोई सवाल पूछना चाहते है तो निचे दिए गये संपर्क फॉर्म के मदद से हमसे कांटेक्ट कर सकते है|

शेयर मार्केट क्या है?, स्टॉक मार्केट क्या है? | What is Share Market In Hindi

आज हम इस पोस्ट में शेयर बाजार के बारे में जानेंगे की, Share Market क्या है, Share Market के कितने प्रकार होते है और Share Market में पैसा कैसे invest करना चाहिए। शेयर बाजार यह किसी भी विकसित देश की अर्थव्यवस्था का महत्वपूर्ण हिस्सा बन गया है। उद्योग या व्यवसाय चलाने के लिये capital चाहिए होता है तो यह उन्हें शेयर बाजार से मिलता है। तो दोस्तों आज हम Share Market/शेयर बाजार, स्टॉक मार्केट क्या है? के बारे विस्तारित रूप से जानेंगे।

What Is Share Market in Hindi? - शेयर बाज़ार क्या है?

Share का अर्थ होता है "हिस्सा" या "भाग" लेकिन शेयर बाजार या Share Market की भाषा में बात करे तो Share का अर्थ होता है कंपनियों में हिस्सा लेना, किसी कंपनी का Share खरीदना याने उस कंपनी का हिस्सेदार या भागीदार बन जाना।

शेयर बाज़ार के माध्यम से आम आदमी भी बड़े से बड़े उद्योग या व्यवसाय मे अपनी भागीदारी कर सकता है लेकिन Share Market यह एक ऐसी जगह है की, यहा पर बहुत से लोग पैसे कमा भी लेते है और पैसे गवा भी लेते है याने Share Market में किसी को बहुत फायदा होता है या फिर किसी का नुकसान भी हो जाता है।

Share Market में Share ख़रीदे और बेचे जाते है। भारत में मुख्य रूप से Bombay Stock Exchange (BSE) और National Stock Exchange (NSE) यह दो Stock Exchange है।

Share खरीदने और बेचने के लिए कई शेयर ब्रोकर्स यानी शेयर दलाल होते है, वो अपना कमीशन लेकर किसी व्यक्ति या कंपनी को शेयर खरीदने बेचने का काम करता है। शेयर बाजार में ब्रोकर या दलाल स्टॉक एक्सचेंज के सदस्य होते है और सिर्फ वो ही स्टॉक एक्सचेंज में ट्रेडिंग कर सकते हैं।

शेयर ब्रोकर्स या शेयर दलाल के जरिये शेयर ख़रीदे या बेचे जाते है। ग्राहक या कंपनी खुद शेयर खरीद या बेच नही सकते। कहा जाता है की, स्टॉक एक्सचेंज, ब्रोकर या दलाल और निवेशक यानी गुंतवणूकदार यह शेयर बाजार या Share Market की तीन कडियाँ है।

Types of Share Market in Hindi - शेयर मार्केट के कितने प्रकार होते है

मुख्यतः Share Market के दो प्रकार होते है एक Primary Share Market और दूसरा Secondary Share Market इसका विश्लेषण नीचे दिया गया है।

1. Primary Share Market (प्राथमिक शेयर मार्केट)

सबसे पहले कंपनी को अपने शेयर्स की स्टॉक एक्सचेंज में लिस्टिंग करवाकर अपने शेयर को बेचती है पर उसे Initial Public Offering या IPO लाना पड़ता है और उसके बाद ही निश्चित किये हुए मूल्य पर अपने शेयर को पब्लिक को ख़रीदने के लिए उपलब्ध किया जाता है।

स्टॉक एक्सचेंज जैसे BSE, NSE और ब्रोकर के जरिये कंपनियां प्राथमिक बाजार के माध्यम से निवेशकों तक पहुँचती हैं।

अगर कोई कंपनी को Initial Public Offering या IPO के लिए जाते समय उसको अपने बारे में, promoters, financials, businesses, अपने शेयर या स्टॉक और उनकी कीमत की पूरी जानकारी देनी होती है।

2. Secondary Share Market (द्वितीयक शेयर मार्केट)

जब हम शेयर मार्केट में पैसा लगाने की बात करते है तो हम Secondary Share Market की बात करते है और उनमे ही पैसा लगाते है। इस मार्केट में पहले से ही लिस्टेड कंपनी के शेयर की खरेदी बिक्री होती है।

Secondary Share Market प्रकार के शेयर बाजार में एक स्टॉक या शेयर की कीमत लगाई जाती है और उसे ख़रीदा-बेचा जाता है लेकिन उस शेयर की उसके फायदे या नुकसान के साथ ख़रीदा-बिक्री होती है।

किसी व्यक्ति के पास जो शेयर बाजार का भाव रहता उस रेट से ही किसी दूसरे व्यक्ति को रियल टाइम मे बेच देते है। दलाल या ब्रोकर के जरिये ही खरेदी-बिक्री होती है।

इस Secondary Share Market में ऐसा भी होता है की, कोई गुंतवणूकदार अपना शेयर किसी ओर को बेचकर शेयर मार्केट या बाजार से बाहर निकल जा सकता है।

शेयर बाजार में पैसा कैसे निवेश करें? How to Money Invest in Share Market?

शेयर मार्केट में Invest करने से पहले हमारे सामने कई सवाल होते हैं जैसे कि, How to invest in share market, कहां निवेश और कैसे निवेश करें या Invest करने में कोई धोखा तो नहीं। इन ही बातो का हमने खयाल रखा तो हम आसानी से शेयर बाजार में निवेश कर सकते हैं।

  • जब कभी भी Invest करना हो उससे पहले उस कंपनियों की हालातों पर नजर रखें।
  • शेयर विकास दर कम हो या महँगाई दर ज्यादा हो तो तब बड़ी कंपनियों पर नजर रखें, क्योंकि ऐसी स्थिति में छोटी कंपनियों के मुकाबले बड़ी कंपनियों के शेयर अच्छी स्थिति में होते हैं।
  • जब भी शेयर बाजार की हालत थोड़ी कमजोर हो तो बड़ी कंपनियों की तरफ ध्यान रखे।
  • कोई भी शेयर खरीदने और बेचने के लिए हमेशा एक स्टॉक ब्रोकर की जरूरत होती है, जब आप स्टॉक मार्केट में निवेश या Invest करने के लिए स्टॉक ब्रोकर के पास जाते है, तो आपको सबसे पहले उनके पास से दो account खोलने पड़ते है " Demat Account " और " Trading Account " यह account खोलने के बाद आप आसानी से कोई भी शेयर की खरेदी-बिक्री कर सकते है।
  • आपको स्टॉक ब्रोकर ऐसा चुनना चाहिए की, वह कम फ़ीस में आपको अच्छी और बेहतरीन सेवा दे।
  • शेयर बाजार में पैसे लगाना ही सबकुछ नही है बल्कि आपको financial plan की भी जरूरत होती है। इन्वेस्ट करने से पहले आपको अपनी financial situation, cash flow और रिक्स लेने की क्षमता पर विचार करना चाहिए।
  • शेयर बाजार में इन्वेस्ट करने के लिए आपको उसके बारे में पूरी जानकारी होना बहुत जरूरी है वरना आपको बहुत बडी कीमत चुकानी पडती है। इसलिए आप किसी जल्दबाजी में कोई फैसला ना ले।

दोस्तों उम्मीद करते है की आपको Share Market क्या है, Share Market में पैसा कैसे इन्वेस्ट करना चाहिए और शेयर मार्केट के कितने प्रकार है इन सब के बारे में पूरी और सही जानकारी मिली होंगी।

अब आप भी "What is Share Market in Hindi - Types of share market and Tips" की पूरी जानकारी लेने के बाद ही शेयर बाजार में पैसा इन्वेस्ट करेंगे। तो दोस्तों आपको यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो अपने दोस्तों में शेअर करे और हमे comments करके बताये।

शेयर मार्केट की पूरी जानकारी

You are currently viewing भारतीय शेयर बाजार का समय – Stock Market Timings in India

भारतीय शेयर बाजार का समय – Stock Market Timings in India

  • Post last modified: September 22, 2020
  • Post author: Yogesh Singh
  • Post category: Share Market
  • Post comments: 3 Comments

हेलो दोस्तों आज हम Detail में जानेगे की भारत में शेयर बाजार कब खुलता है और कब बंद होता है (Stock Market Timings in India) अगर आपने हमारे शेयर मार्किट क्या होता है पोस्ट नहीं देखी तो आप देख सकते है |
अक्सर भारत में लोग शेयर बाजार के समय के बारे में काफी भ्रमित रहते हैं तो आज हम आपको विस्तार में शेयर बाजार के खुलने और बंद होने के समय बारे में बतायेंगे |

भारत में शेयर बाजार का समय – Stock market timings in India

भारत में दो प्रमुख स्टॉक एक्सचेंज है –National Stock Exchange (NSE) और Bombay Stock Exchange (BSE) हैं। हालांकि, NSE और BSE दोनों exchanges का एक ही समय है।

भारतीय शेयर बाजार सप्ताह के अंत में, यानी शनिवार और रविवार को बंद रहते है और इसके अलावा, यह राष्ट्रीय और स्टॉक एक्सचेंज की छुट्टियों पर भी बंद रहते है | स्टॉक एक्सचैंजेस की छुटियाँ आप यहाँ देख सकते है |

भारत में शेयर बाजार के समय को तीन सत्रों में विभाजित किया जाता है

  1. Pre-open Session (प्री-ओपन सत्र)
  2. Normal Session (सामान्य सत्र)
  3. Post-closing Session (समापन के बाद का सत्र)

Note : बाजार में भारी अस्थिरता से बचने के लिए Pre-open Session यानि पूर्व-खुला सत्र रखा जाता है और यह एक संतुलन मूल्य बनाने के लिए ताकि बाजार को अपनी शुरुआती कीमत मिल सके, आप यहां पा सकते हैं कि एनएसई कैसे अपने शुरुआती मूल्य की गणना करता है।

Pre-open Session को आगे तीन सत्रों में विभाजित किया जाता है –

  1. सुबह 9:00 से 9:08 बजे (Order Entry Session -आदेश प्रवेश सत्र):
  • इस समय में, कोई भी शेयर खरीद और बेच सकता है।
  • आप Orders में परिवर्तन या उसको रद्द भी कर सकते हैं।

Note: आप अपने ऑर्डर को सुबह 9:07 बजे से पहले रखने का प्रयास करें क्योंकि आपको नहीं पता है कि शेयर मार्किट का algorithm कब और कैसे काम करता है और वक़्त पे न होने पर आपका ऑर्डर रद्द भी किया जा सकता है।

2. सुबह 9:08 से 9:12 बजे (मैचिंग ऑर्डर सत्र- Order Matching Session):

  • इस समय में, आप अपने Orders में परिवर्तन , खरीद व बेच या रद्द नहीं कर सकते।
  • इस सत्र का उपयोग Orders का मिलान करके बाजार के लिए शुरुआती मूल्य निर्धारित करने के लिए किया जाता है।

नोट: यदि आपने पहले अपने ऑर्डर में कोई लिमिट लगाई है तो उस लिमिट को बाजार की तय कीमतों से मेल किया जाता है, और अगर यह लिमिट बाजार की तय हुई कीमत के नीचे आता है तो आपका Order Execute हो जाता है, अन्यथा, यह Execute नहीं होता ।

3. सुबह 9:12 से 9:15 बजे (बफर सत्र-Buffer Session ):

  • इस सत्र का उपयोग बफ़र सत्र के रूप में किया जाता है, यदि प्रारंभिक दो चरणों में कोई भी असामान्यताएं पायी जाती है तो इस सत्र में उसकी जाँच की जाती है।
  • इस सत्र को अगली प्रक्रिया को Smooth करने के लिए भी उपयोग किया जाता है, ताकि दिन का कारोबार सामान्य रूप से चल सके ।

Note: Pre Opening Session में आप केवल निफ़्टी 50 कंपनियों के ही शेयर्स ले व बेच सकते है |

यह भी पढ़े

Normal Session-सामान्य सत्र

  • इस सत्र की अवधि सुबह 9:15 बजे से शाम 3:30 बजे तक की है।
  • इस सत्र में, अधिकांश ट्रेड होते हैं।
  • आप इस सत्र में स्टॉक खरीद व बेच सकते हैं।

शाम 3:30 से 3:40 बजे के समय में शेयर्स का closing price को calculate किया जाता है और इसमें स्टॉक मार्किट इंडेक्स जैसे की Sensex और Nifty अपनी इंडेक्स मूल्य की गणना करते है जोकि 3.00 बजे से 3.30 बजे के बीच आखरी के 30 minutes में ट्रेड किये शेयर्स के भाव से प्राप्त किये जाते है ।

POST-CLOSING SESSION – समापन के बाद का सत्र:

  • यह सत्र दोपहर 3:40 से 4:00 बजे के बीच में होता है |
  • आप इस सत्र में शेयर्स खरीद व बेच सकते है जिसे (AMO) After Market Orders भी कहते है | इसमें बाजार बंद होने के बावजूद आप अपने ऑर्डर को खरीद या बेच सकते हैं । लेकिन शेयर्स खरीदने और बेचने का भाव मार्किट के closing 3:30 बजे वाले भाव पर होता है |
  • अगर आपने पहले गलती से कोई ट्रेड ले लिया था जैसा की आपने कोई शेयर 1000 की बजाए 10000 शेयर्स ले लिए और आपके पास डिलीवरी के पैसे नहीं है तो आप इस सत्र उन शेयर्स को बेच सकते है शेयर्स बेचने का भाव मार्किट क्लोजिंग वाला ही रहता है |

Note: Pre-opening session और Post-closing session केवल कैश मार्केट के लिए ही उपयोग में लाए जाते है इनको Futures और options में उपयोग नहीं किया जाता ।

Special Trading Day

हालांकि, राष्ट्रीय छुट्टियों पर शेयर बाजार बंद रहता है, लेकिन यह दिवाली त्योहार के दौरान कुछ घंटों के लिए खुला रहता है, जिसे ‘Mahurat Trading‘ के रूप में जाना जाता है। इस विशेष दिन के लिए ट्रेडिंग घंटे का समय दिवाली से कुछ दिन पहले ही तय किया जाता हैं।

Conclusion

दोस्तों आज हमने इस पोस्ट में सीखा की भारतीय शेयर शेयर मार्केट की पूरी जानकारी का समय क्या है (Stock market timings in India) आशा है आपको यह पोस्ट पसंद आयी होगी अगर आपका कोई सवाल या सुझाव है तो आप हमे कमेंट कर सकते है |

Share Market क्या है | शेयर बाज़ार क्या है जानिए पूरी जानकारी

Share Market Kya Hai

Share Market Kya Hai

आज आप जानेंगे कि Share Market Kya Hai और इसके बारे में पूरी जानकारी, Share Market या Stock Market एक ऐसा मार्केट है जहां हम अपना पैसा Invest कर लाखों रुपए कमा सकते हैं। शेयर बाजार में बहुत सी Companies के Share को खरीदा और बेचा जाता है। वर्तमान में Share Market अक्सर चर्चे में रहता है।

ऐसे में मार्केट में कई ट्रेडिंग ऐप है (Best Trading App In India) जिनके जरिए आप Share Market या Mutual Funds में Investment कर लाखों रूपये कमा सकते है। लेकिन आज भी कई ऐसे लोग है जिन्हे शेयर बाजार (Share Market) के बारे में पता नहीं है। इसलिए आज हम आपको Share Market Kya Hai और इसके बारे में पूरी जानकारी विस्तार में देने जा रहे है।

Table of Contents

Share Market क्या है (What is Share Market in Hindi)

Share Market या Stock Market एक ऐसा मार्केट है जहां शेयर मार्केट की पूरी जानकारी पर बहुत सी companies के शेयर खरीदे और बेचे जाते है। यह एक ऐसी जगह है जहां लोग या तो लाखों रुपए कमा लेते हैं या अपने सारे पैसे गवा देते हैं। जब आप किसी कंपनी के शेयर खरीदते हैं तो आप उस कंपनी के पार्टनर बन जाते हैं। हालांकि आप जितने पैसे लगाते हैं उसी के आधार पर उतने ही प्रतिशत के मालिक बनते हैं।

यहां जो शेयर अपने खरीदे हैं उन्हें आप दाम बढ़ने पर बेच भी सकते हैं। इसके साथ ही यदि कंपनी को कोई फायदा होता है तो आपको भी फायदा होगा लेकिन यदि कंपनी को नुकसान होता है तो आपको भी नुकसान होगा।
अक्सर बहुत से लोग शेयर मार्केट पर बिना कुछ जाने पैसे लगा देते हैं। ऐसे में उन्हें हर वक्त नुकसान का ही सामना करना पड़ता है। इसलिए शेयर मार्केट में पैसे लगाने से पहले आपको Demat Account, Sensex and Nifty, Equity इनकी जानकरी होना अनिवार्य है।

Share Market से शेयर कब खरीदे

आपको बता दें Share Market में शेयर खरीदने से पहले आप इस लाइन का experience gain कर लें। यानी आपको शेयर मार्केट की पूरी समझ होनी चाहिए इसके अलावा जिस कंपनी से आप शेयर खरीद रहे हैं उसके पूरे टर्म एंड कंडीशन को समझ ले। साथ ही कंपनी की Assets और Liabilities को भी देख लें ताकि आपको पता चल जाए कि कंपनी फायदे में चल रही है या नुकसान में चल रही है।

इसके अलावा कंपनी की Cash Flow Statement और Balance Sheet को भी अच्छे से देख ले। वर्तमान में न्यूज़ चैनल और इंटरनेट के जरिए भी आप जान सकते हैं कि कौन सी कंपनी के शेयर बड़े हैं और कौन सी कंपनी के गिरे है। इससे आप आसानी से अच्छी कंपनी से शेयर खरीद सकते हैं। लेकिन यह काम बेहद रिक्स भरा है। इसलिए आप शेयर मार्केट पर इन्वेस्ट तभी करें जब आपकी आर्थिक स्थिति अच्छी हो।

Share Market में पैसे कैसे लगाए

Share Market या शेयर बाजार में पैसे लगाने से पहले आपको Demat Account बनाना पड़ता है। Demat Account बनाने के दो तरीके है। जिनकी मदद से आप आसानी से Demat Account खोल सकते है। ये तरीके निम्नलिखित है।

पहला तरीका: Demat Account खोलने के लिए आप Broker की मदद ले सकते है। बता दे share के पैसे Demat Account में रहते है। ऐसे में जब भी आप के शेयर के पैसे बढ़ेंगे। वह आपके Demat Account में अजायेंगे। इसके लिए आपका किसी भी बैंक में Saving Account होना अनिवार्य है। इसी बैंक खाते से आपका Demat Account लिंक जुड़ा होता है। इसके अलावा आप Demat Account से अपने बैंक अकाउंट में पैसे ट्रांसफर भी कर सकते हैं।

दूसरा तरीका: इसमें में खुद किसी भी बैंक में अपना Demat Account खुलवा सकते है। लेकिन यदि आप किसी ब्रोकर से Demat Account खुलवाते है तो आपको फायदा रहता है। ताकि ब्रोकर आपको हमेशा अच्छी कंपनी ही Suggest करते है।

उम्मीद है आपको Share Market Kya Hai और इसकी पूरी जानकारी समझ आई होंगी। इसके अलावा हमने आपको बताया कि शेयर मार्केट में शेयर कैसे खरीदते हैं और शेयर मार्केट में पैसे कैसे लगाएं। बता दे शेयर बाजार में निवेश करना बेहद जोखिम भरा होता है। इसलिए पूरी जानकारी और सोच समझकर ही शेयर मार्केट में इन्वेस्ट करें।

यह भी पढ़े:

Paytm से पैसे कैसे कमाए 2022 में

भारत की GDP कितनी है 2022

दुनिया की सबसे बड़ी वेबसाइट कौन सी है 2022

आसमान का रंग नीला क्यों होता है

FAQ’s (Frequently Asked Questions)

प्रश्न : शेयर कब खरीदना चाहिए?

उत्तर : आपको उस समय शेयर खरीदना चाहिए जब पूरा स्टॉक मार्केट डरा हुआ हो। और उस समय शेयर बेचना चाहिए जब पूरा बाजार लालच से भरा हो।

प्रश्न : शेयर कितने प्रकार के होते?

उत्तर : शेयर मुख्यतः तीन प्रकार के होते हैं। Equity Share (इक्विटी शेयर), Preference Share (परेफरेंस शेयर), DVR Share (डी वी आर शेयर)

प्रश्न : शेयर मार्केट में सबसे अच्छी कंपनी कौन सी है?

उत्तर : शेयर मार्केट में सबसे अच्छी कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड है।

प्रश्न : शेयर मार्किट का चार्ट कैसे देखे?

उत्तर : शेयर मार्केट का चार्ट देखने के लिए आप tradingview.com पर जा सकते है। यहां आपको बहुत ही अच्छे शेयर मार्केट चार्ट मिल सकते हैं।

प्रश्न : शेयर मार्केट का किंग कौन है?

उत्तर : भारत में राकेश झुनझुनवाला को शेयर मार्केट का किंग कहा जाता है।

शेयर बाजार

भंडारमंडी सार्वजनिक बाजारों को संदर्भित करता है जो स्टॉक एक्सचेंज या ओवर-द-काउंटर पर व्यापार करने वाले शेयरों को जारी करने, खरीदने और बेचने के शेयर मार्केट की पूरी जानकारी लिए मौजूद हैं। शेयर बाजार (शेयर बाजार भी कहा जाता है) पैसा निवेश करने के कई रास्ते देता है, लेकिन यह विश्लेषण के साथ किया जाना है (तकनीकी विश्लेषण ,मौलिक विश्लेषण आदि) और उसके बाद ही किसी को लेना चाहिएबुलाना कानिवेश.

stock-market

स्टॉक, जिसे . के रूप में भी जाना जाता हैइक्विटीज, एक कंपनी में आंशिक स्वामित्व का प्रतिनिधित्व करते हैं, और शेयर बाजार एक ऐसा स्थान है जहां निवेशक ऐसी निवेश योग्य संपत्तियों के स्वामित्व को खरीद और बेच सकते हैं। एक कुशलतापूर्वक कार्यशील शेयर बाजार को आर्थिक विकास के लिए महत्वपूर्ण माना जाता है, क्योंकि यह शेयर मार्केट की पूरी जानकारी कंपनियों को शीघ्रता से उपयोग करने की क्षमता देता हैराजधानी जनता से।

स्टॉक मार्केट में कौन काम करता है?

स्टॉक मार्केट से जुड़े कई अलग-अलग खिलाड़ी हैं, जिनमें ट्रेडर, स्टॉकब्रोकर, पोर्टफोलियो मैनेजर, स्टॉक एनालिस्ट और इनवेस्टमेंट बैंकर शामिल हैं। प्रत्येक की एक अनूठी भूमिका होती है।

शेयर दलालों

स्टॉकब्रोकर लाइसेंस प्राप्त पेशेवर हैं जो निवेशकों की ओर से प्रतिभूतियां खरीदते और बेचते हैं। ब्रोकर निवेशकों की ओर से स्टॉक खरीद और बेचकर स्टॉक एक्सचेंज और निवेशकों के बीच मध्यस्थ के रूप में कार्य करते हैं।

पोर्टफोलियो प्रबंधक

ये ऐसे पेशेवर हैं जो ग्राहकों के लिए पोर्टफोलियो, या प्रतिभूतियों का संग्रह निवेश करते हैं। इन प्रबंधकों को विश्लेषकों से सिफारिशें मिलती हैं और पोर्टफोलियो के लिए खरीदने या बेचने का निर्णय लेते हैं।म्यूचुअल फंड कंपनियां,हेज फंड, और पेंशन योजनाएँ निर्णय लेने के लिए पोर्टफोलियो प्रबंधकों का उपयोग करती हैं और उनके पास मौजूद धन के लिए निवेश रणनीतियाँ निर्धारित करती हैं।

स्टॉक विश्लेषक

स्टॉक विश्लेषक अनुसंधान करते हैं और प्रतिभूतियों को खरीदने, बेचने या रखने के रूप में मूल्यांकन करते हैं। यह शोध ग्राहकों और इच्छुक पार्टियों को प्रसारित किया जाता है जो यह तय करते हैं कि स्टॉक खरीदना या बेचना है या नहीं।

निवेश बैंकर

निवेश बैंकर विभिन्न क्षमताओं में कंपनियों का प्रतिनिधित्व करते हैं, जैसे कि निजी कंपनियां जो आईपीओ के माध्यम से सार्वजनिक होना चाहती हैं या ऐसी कंपनियां जो लंबित विलय और अधिग्रहण में शामिल हैं।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज ऑफ इंडिया लिमिटेड (NSE) मुंबई में स्थित भारत का प्रमुख स्टॉक एक्सचेंज है। NSE की स्थापना 1992 में देश में पहले डिम्युचुअलाइज्ड इलेक्ट्रॉनिक एक्सचेंज के रूप में हुई थी। एनएसई एक आधुनिक, पूरी तरह से स्वचालित स्क्रीन-आधारित इलेक्ट्रॉनिक ट्रेडिंग सिस्टम प्रदान करने वाला देश का पहला एक्सचेंज था, जो आसान ट्रेडिंग की पेशकश करता थासुविधा देश भर में फैले निवेशकों के लिए।

बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज

1875 में स्थापित, बीएसई (पूर्व में के रूप में जाना जाता था)बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज Ltd.) एशिया का पहला स्टॉक एक्सचेंज है। यह दुनिया का सबसे तेज़ स्टॉक एक्सचेंज होने का दावा करता है, जिसकी औसत व्यापार गति 6 माइक्रोसेकंड है। बीएसई अप्रैल 2018 तक 2.3 ट्रिलियन डॉलर से अधिक के कुल बाजार पूंजीकरण के साथ दुनिया का 10 वां सबसे बड़ा स्टॉक एक्सचेंज है।

आप शेयर बाजार में कैसे निवेश करते हैं?

शेयर बाजार में निवेश करना बहुत ही आसान प्रक्रिया है। आपको दो खाते खोलने होंगे- डीमैट औरट्रेडिंग खाते.

सबसे पहले, एक खोलने के लिएडीमैट खाता ऑनलाइन आपको कुछ दस्तावेजों की आवश्यकता है जैसे-

डीमैट खोलने के बाद, आप ऑनलाइन ब्रोकरों के साथ ट्रेडिंग खाता खोल सकते हैं।

You Might Also Like

Good information sir,thank you.

Get it on Google Play

AMFI Registration No. 112358 | CIN: U74999MH2016PTC282153

Mutual fund investments are subject to market risks. Please read the scheme information and other related documents carefully before investing. Past performance is not indicative of future returns. Please consider your specific investment requirements before choosing a fund, or designing a portfolio that suits your needs.

Shepard Technologies Pvt. Ltd. (with ARN code 112358) makes no warranties or representations, express or implied, on products offered through the platform. It accepts no liability for any damages or losses, however caused, in connection with the use of, or on the reliance of its product or related services. Terms and conditions of the website are applicable.

रेटिंग: 4.73
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 456
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *