स्टॉक ट्रेडिंग

बेयर मार्केट क्या है?

बेयर मार्केट क्या है?
Insider Trading (Photo: Wikimedia)

नये प्रश्न

हाज़िर जवाब, विश्व की प्रथम हिन्दी प्रश्न उत्तर वेबसाइट पर आपका स्वागत है, जहां आप समुदाय के अन्य सदस्यों से हिंदी में प्रश्न पूछ सकते हैं और हिंदी में उत्तर प्राप्त कर सकते हैं |
प्रश्न पूछने या उत्तर देने के लिये आपको हिंदी मे टाइप करने की जरुरत नहीं हैं, आप हिंग्लिश (HINGLIS) मे भी टाइप कर सकते है!

Insider Trading: आखिर क्या है इनसाइडर ट्रेडिंग, जिसमें फंसे हैं कई मशहूर बिजनेसमैन, जानिए अब तक के बड़े मामले

Insider Trading: अगर आप शेयर मार्केट में निवेश करते हैं तो आपको इससे जुड़े नियम-कानूनों को अच्छें से जान लेना चाहिए. स्टॉक मार्केट में आपने की बार इनसाइडर ट्रेडिंग शब्द सुना होगा, पर क्या आपको इसकी पूरी जानकारी है.

Insider Trading (Photo: Wikimedia)

Insider Trading (Photo: Wikimedia)

  • नई दिल्ली ,
  • 26 जुलाई 2022,
  • (Updated 26 जुलाई 2022, 11:20 AM IST)

पिछले कुछ सालों में बढ़े हैं इनसाइडर ट्रेडिंग के मामले

राकेश झुनझुनवाला भी फंसे हैं इनसाइडर ट्रेडिंग के मामले में

हाल ही बेयर मार्केट क्या है? में, कई मामलों में बहुत से लोगों पर Insider Trading (इनसाइडर ट्रेडिंग) का आरोप लगाया गया है. जिसमें उन्होंने अवैध लाभ में पांच मिलियन डॉलर से अधिक कमाए हैं. एनडीटीवी की एक रिपोर्ट के मुताबिक, सिक्योरिटीज एंड एक्सचेंज कमीशन ने ल्यूमेंटम होल्डिंग्स के पूर्व मुख्य सूचना सुरक्षा अधिकारी 49 वर्षीय अमित भारद्वाज और उनके दोस्तों, धीरेनकुमार पटेल (50), श्रीनिवास कक्करा (47), अब्बास सईदी (47) और रमेश चित्तोर (45) पर आरोप लगाए हैं.

एसईसी का आरोप है कि कैलिफोर्निया में रहने वाले इन लोगों ने ल्यूमेंटम द्वारा दो कॉर्पोरेट अधिग्रहण घोषणाओं से पहले ट्रेडिंग की और 5.2 मिलियन अमरीकी डॉलर से ज्यादा अवैध फायदा कमाया. अब सवाल है कि आखिर Insider Trading या भेदिया कारोबार क्या है.

क्या है इनाइडर ट्रेडिंग
इनसाइडर ट्रेडिंग को इनसाइडर डीलिंग के रूप में भी जाना जाता है. जब कंपनी के कर्मचारी अवैध तरीके से कंपनी के शयर्स की खरीद-बिक्री करके मुनाफा कमाते हैं, तो इसे इनसाइडर ट्रेडिंग कहते हैं. यह खासकर कंपनी की किसी गोपनीय जानकारी के आधार पर किया जाता है और कर्मचारियों के पता होता है कि आने वाले समय में कंपनी के शेयर्स के दाम बढ़ेंगे.

उदहारण के लिए, आपकी कंपनी का किसी दूसरी कंपनी के साथ मर्जर होने वाला है या कंपनी अपने शेयर्य गिरवी रखकर लोन लेती है. और इस तरह की गोपनीय जानकारी की खबर प्रबंधन से जुड़े अधिकारियों को होती है. अगर ये अधिकारी डील को अनाउंस होने से पहले ही अपने किसी करीबी के नाम से कंपनी के शेयर खरीद ले ताकि मर्जर के बाद जब शेयर्स के दाम बढ़े तो इन्हें बेचकर वह अच्छा मुनाफा कमा सकता है.

हालांकि, प्रमोटर शेयर की खरीद SEBI के दिशा-निर्देशों के मुताबिक करता है तो यह गलत नहीं है. लेकिन गलत तरीकों से की गई खरीद और बिक्री के खिलाफ कानूनी कार्यवाही होती है.

सामने आए हैं कई बड़े मामले
बिजनेस स्टैंडर्ड की एक रिपोर्ट के मुताबिक, SEBI ने अप्रैल 2017 से अब तक कुल 177 - एक साल में औसतन लगभग 38 इनसाइडर ट्रेडिंग मामलों की जांच की है. इन मामलों में इंडस्ट्री से जुड़े कुछ मशहूर लोग भी शामिल हैं. इनमें सन फार्मा के दिलीप शांघवी और इसके कुछ निदेशकों, किरण मजूमदार-शॉ, राकेश झुनझुनवाला, भारती एयरटेल की प्रमोटर फर्म इंडियन कॉन्टिनेंट इनवेस्टमेंट जैसे नाम शामिल हैं.

राकेश अग्रवाल बनाम सेबी
साल 1996 में, ABS इंडस्ट्रीज लिमिटेड के प्रबंध निदेशक, राकेश अग्रवाल ने एक जर्मन व्यवसाय, बेयर एजी के साथ एक समझौते किया था. जर्मन कंपनी, ABS इंडस्ट्रीज लिमिटेड के 51% शेयरों को खरीदने वाली थी. यूपीएसआई द्वारा अधिग्रहण की घोषणा के बाद, अग्रवाल ने अपने एबीएस इंडस्ट्रीज के स्वामित्व का एक महत्वपूर्ण हिस्सा बेच दिया, जिसका स्वामित्व उसके बहनोई, आई.पी. केडिया के पास था. इस मामले में सेबी ने माना कि राकेश अग्रवाल इनसाइडर ट्रेडिंग के दोषी थे.

हिंदुस्तान लीवर लिमिटेड बनाम सेबी
हिंदुस्तान लीवर लिमिटेड ("एचएलएल") ने सार्वजनिक निवेश संस्थान, यूनिट ट्रस्ट ऑफ इंडिया ("यूटीआई") बेयर मार्केट क्या है? से ब्रुक बॉन्ड लिप्टन इंडिया लिमिटेड ("बीबीएलआईएल") के विलय की सार्वजनिक घोषणा से दो सप्ताह पहले बीबीएलआईएल 8 लाख शेयर खरीदे. सेबी ने इनसाइडर ट्रेडिंग का संदेह करते हुए, अध्यक्ष, सभी कार्यकारी निदेशकों, कंपनी सचिव और एचएलएल के तत्कालीन अध्यक्ष को कारण बताओ नोटिस ("एससीएन") जारी किया बेयर मार्केट क्या है? था.

राकेश झुनझुनवाला बनाम सेबी
सेबी ने मशहूर इकोनोमिस्ट राकेश झुनझुनवाला को भी इनसाइडर ट्रेडिंग के मामले में नोटिस भेजा था. नोटिस के बेयर मार्केट क्या है? अनुसार, राकेश झुनझुनवाला ने एप्टेक एजुकेशन और ट्रेनिंग कंपनी के शेयरों में इनसाइडर ट्रेडिंग किया था. यह कंपनी झुनझुनवाला और उनके परिवार की है. सेबी के अनुसार राकेश झुनझुनवाला ने साल 2006 में एप्टेक कंपनी के शेयर 56 रूपये पर खरीदे थे. उसके बाद से कंपनी में उनके और उनके परिवार के लोगों का हिस्सेदारी बढ़कर 49 प्रतिशत हो गया है.

हाल ही में, राकेश झुनझुनवाला, उनकी पत्नी रेखा और आठ अन्य लोगों ने एप्टेक के स्टॉक से जुड़े इस इनसाइडर ट्रेडिंग मामले को सेबी को सामूहिक रूप से 37 करोड़ रुपये का भुगतान करके सुलझाया है.

Julius Bär Mobile

स्क्रीनशॉट की इमेज

जूलियस बेयर मोबाइल ऐप (ऐप) स्विट्जरलैंड, लक्जमबर्ग, मोनाको, हांगकांग, सिंगापुर, भारत और जर्मनी में ई-सेवाओं के लिए आपकी वित्तीय जानकारी के लिए सुविधाजनक, उपयोग में आसान और सुरक्षित पहुंच प्रदान करता है।

ई-सर्विसेज स्विट्जरलैंड जूलियस बेयर मोबाइल बैंकिंग
यह सेवा जूलियस बेयर ग्राहकों के लिए उपलब्ध है, जिनके पास ई-बैंकिंग स्विट्जरलैंड (J00000) के लिए वैध यूजर आईडी है।

मुख्य विशेषताएं
- अपने कंप्यूटर पर सुरक्षित ई-बैंकिंग लॉगिन
- संपत्ति: खाता शेष और पोर्टफोलियो प्रदर्शन चार्ट सभी एक ही स्थान पर
- ई-दस्तावेज़ और सुरक्षित संदेश: अपने बैंक दस्तावेज़ इलेक्ट्रॉनिक रूप से प्राप्त करें और अपने संपर्क व्यक्ति के साथ सुरक्षित रूप से संवाद करें।
- वैयक्तिकरण: अनुकूलित ईमेल, एसएमएस और पुश सूचनाएं जो सुनिश्चित करती हैं कि आपको हर समय बेयर मार्केट क्या है? अपनी संपत्ति के बारे में स्वचालित रूप से सूचित किया जाता है।
- भुगतान: त्वरित और आसान भुगतान
- व्यापार: व्यापारिक अवसरों की एक विस्तृत श्रृंखला
- हमारे योग्य शोध विशेषज्ञों से नवीनतम आकलन प्राप्त करें

जूलियस बेयर मार्केट लिंक - ऑनलाइन ट्रेडिंग
यह सेवा जूलियस बेयर स्विट्जरलैंड के ग्राहकों के लिए उपलब्ध है।
जूलियस बेयर के ऑनलाइन ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म तक पहुंच। कई परिसंपत्ति वर्गों के वित्तीय साधनों के साथ, मंच आपको वैश्विक वित्तीय बाजारों तक बेयर मार्केट क्या है? 24 घंटे सीधी पहुंच प्रदान करता है। एक ग्राहक के रूप में, आप कर सकते हैं
- बाजारों के साथ 24/7 . बने रहें
- विभिन्न एक्सचेंजों और परिसंपत्ति वर्गों में व्यापार
- सभी महत्वपूर्ण वित्तीय बाजार खोलें

सेवाएं यूरोप
यह सेवा वैध ई-सर्विसेज यूरोप यूजर आईडी (एएए000) या (सी00000) के साथ जूलियस बेयर ग्राहकों के लिए उपलब्ध है।
ई-सर्विसेज यूरोप आपको अपने वित्तीय डेटा जैसे पोर्टफोलियो और एसेट ओवरव्यू तक पहुंच प्रदान करता है और आपको एक सुरक्षित चैनल के माध्यम से अपने रिलेशनशिप मैनेजर के साथ संवाद करने में सक्षम बनाता है।

सेवाएं एशिया
यह ऐप केवल मौजूदा ग्राहकों के लिए उपलब्ध है।

निवास स्थान या सेवाओं के आदेश के कारण कुछ प्रतिबंध लागू हो सकते हैं। उपरोक्त सुविधाएँ सभी देशों में उपलब्ध नहीं हो सकती बेयर मार्केट क्या है? हैं या अतिरिक्त समझौतों पर हस्ताक्षर करने की आवश्यकता है।

कृपया ध्यान दें कि इस एप्लिकेशन को डाउनलोड, इंस्टॉल और/या उपयोग करके, आप जूलियस बेयर और/या तीसरे पक्षों (जैसे ऐप स्टोर और नेटवर्क ऑपरेटरों या आपके डिवाइस के निर्माता) को अपनी सहमति दे रहे हैं, चाहे उनका स्थान कुछ भी हो, आपकी पहुंच के लिए जूलियस बेयर के साथ वर्तमान, अतीत या संभावित बैंक ग्राहक संबंधों के बारे में डेटा तक पहुंच और प्रक्रिया और/या निष्कर्ष निकालना और/या अपने मौजूदा या संभावित निवेशों के बारे में निष्कर्ष निकालना। डेटा और/या बैंक ग्राहक संबंध के ऐसे संभावित प्रकटीकरण की स्थिति में बैंक ग्राहक गोपनीयता और/या डेटा सुरक्षा की गारंटी नहीं दी जा सकती है। इस संदर्भ में, इस एप्लिकेशन को डाउनलोड करके, इंस्टॉल करके और/या इसका उपयोग करके, आप स्वीकार करते हैं कि आपने इस नोटिस को पढ़ लिया है, समझ लिया है और जूलियस बेयर को बैंकिंग/यातायात सुरक्षा को बनाए रखने के अपने दायित्व से मुक्त कर दिया है। लागू कानून के अनुपालन में स्पष्ट रूप से और डेटा की पूर्ण प्रसंस्करण सीमा।

एशिया
इस ऐप को डाउनलोड और उपयोग करके, आप स्पष्ट रूप से स्वीकार करते हैं कि आपके निवास स्थान के कानून आपको ऐप का उपयोग करने और अपनी पसंद के आधार पर प्रदान की जाने वाली सेवाओं तक पहुंचने की अनुमति देते हैं, न कि जूलियस बेयर की सलाह पर, और आप सहमत हैं ऐप के नियमों और शर्तों से बंधे होने के लिए।

चिली
बैंक का मुख्यालय स्विट्जरलैंड में है और इसके संचालन स्विट्जरलैंड के कानूनों, विनियमों और अदालतों द्वारा शासित होते हैं। बैंक चिली के अधिकारियों के पर्यवेक्षण के अधीन नहीं है और इसके संचालन चिली गणराज्य की गारंटी के अंतर्गत नहीं आते हैं।

शेयर बाजार में भारी उतार-चढ़ाव: सेंसेक्स 31 अंकों की मामूली गिरावट के साथ 50,363 पर बंद, एक्सचेंज पर 47% शेयरों में बिकवाली

शेयर बाजार में मंगलवार को लगातार तीसरे दिन गिरावट रही। BSE सेंसेक्स 31 अंकों की गिरावट के साथ 50,363.96 पर बंद हुआ है। कारोबार के दौरान इंडेक्स दिन के सबसे ऊंचे स्तर 50,857.98 को भी छुआ। यह सोमवार को 50,395 पर बंद हुआ था।

एक्सचेंज पर 47% शेयरों में गिरावट
सेंसेक्स में एशियन पेंट्स का शेयर 4.66% की बढ़त रही, तो SBI, कोटक बैंक, ICICI बैंक के शेयर में 1.4% की गिरावट रही। BSE पर 3,138 शेयरों में कारोबार हुआ, जिसमें से 1,473 के शेयर बढ़त और 1,486 के गिरावट के साथ बंद हुआ हैं। एक्सचेंज पर लिस्टेड कंपनियों का कुल मार्केट कैप बढ़कर 207.31 लाख करोड़ रुपए हो गया है, जो कल 206.88 लाख करोड़ रुपए था।

निफ्टी इंडेक्स भी 19 अंकों की गिरावट के साथ 14,910.45 पर बंद हुआ, जो 15 मार्च को14,929.50 पर बंद हुआ था। सुबह BSE सेंसेक्स 223 अंक ऊपर 50,608.42 पर और निफ्टी 67 अंकों की बढ़त के साथ 14,996.10 पर खुला था।

बैंकिंग और मेटल शेयरों में बिकवाली
बैंकिंग और मेटल शेयरों में बिकवाली रही। निफ्टी बैंक इंडेक्स 377 अंक नीचे 34,804.60 ​​​​​​पर बंद हुआ है। इसी तरह मेटल इंडेक्स में भी 0.85% की गिरावट रही। दूसरी ओर निवेशकों ने आईटी सेक्टर के शेयरों में सबसे ज्यादा खरीदारी की। निफ्टी IT इंडेक्स 1.3% की बढ़त के साथ 26,363.85 पर बंद हुआ है।

जानिए निवेशकों के लिए मार्केट एनालिस्ट की क्या है सलाह.

  • रिलायंस सिक्योरिटीज के स्ट्रैटेजी हेड बिनोद मोदी के मुताबिक बाजार में सत्र के आखिर में बिकवाली हुई, जिसे फाइनेंशियल शेयरों ने लीड किया। वहीं रुपए की मजबूती से चौथी तिमाही में टेक कंपनियों के बेहतर नतीजों की उम्मीद से शेयरों में बढ़त रही। उन्होंने कहा कि कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच लॉकडाउन से निकट अवधि में बाजार के लिए जोखिम भरा है। इसके अलावा बॉन्ड मार्केट में उतार-चढ़ाव और महंगाई भी बाजार का सेंटिमेंट बिगाड़ सकती है।
  • बिनोद मोदी के मुताबिक बाजार में गिरावट के बीच निवेशकों को खरीदारी करनी चाहिए। निवेशकों को लंबी अवधि के लिए इंफ्रास्ट्रक्चर, बिल्डिंग मैटेरियल, कैपिटल गुड्स, बैंकिंग, चुनिंदा ऑटो शेयरों पर फोकस रहना चाहिए।
  • जियोजित फाइनेंशियल सर्विसेस के रिसर्च हेड विनोद नायर के मुताबिक कच्चे तेल की बढ़ती कीमतें, विदेशी और घरेलू संस्थागत निवेशकों द्वारा शेयरों की बिक्री बेयर मार्केट क्या है? बाजार को प्रभावित कर रही है। हमें उम्मीद है कि अमेरिका में फेड रिजर्व की मीटिंग और बॉन्ड यील्ड में राहत से यह बिक्री थमेगी।

शेयर बाजार के प्रमुख इंडेक्स में सबसे ज्यादा बढ़ने और गिरने वाले शेयरों को नीचे दिए गए ग्राफिक से समझिए.

दुनियाभर के शेयर बाजारों में खरीदारी
US मार्केट में बढ़त के चलते दुनियाभर के शेयर बाजारों में खरीदारी रही। जापान का निक्केई इंडेक्स 157 अंक ऊपर 29,924 पर बंद हुआ है। हॉन्गकॉन्ग का हेंगसेंग इंडेक्स 132 अंक चढ़कर 28,966 पर पहुंच गया है। इसी तरह चीन के शंघाई कंपोजिट में भी 26 अंकों की बढ़त रही। ऑस्ट्रेलिया के ऑल ऑर्डनरीज इंडेक्स और कोरिया के कोस्पी इंडेक्स में बढ़त दर्ज की गई।

अमेरिकी बाजारों में रिकॉर्ड बढ़त
US बाजारों में सोमवार डाओ जोंस और S&P 500 इंडेक्स रिकॉर्ड हाई पर बंद हुए। कोरोना महामारी की मार से बिगड़ी इकोनॉमी में रिकवरी और इसी हफ्ते ब्याज दरों पर फेड रिजर्व के फैसले से शेयर बाजार में खरीदारी रही। नैस्डैक इंडेक्स 1.05% ऊपर 13,459 अंकों पर बंद हुआ था। इससे पहले यूरोपियन मार्केट में गिरावट रही, जिसमें फ्रांस, ब्रिटेन और जर्मनी के शेयर बाजार शामिल हैं।

Cryptocurrency : जानें मार्केट में गिरावट दर्ज होने पर स्मार्ट निवेशकों को क्या करना चाहिए?

Cryptocurrency: क्रिप्टो मार्केट में बहुत ज्यादा वॉलेटाइल देखा जाता है, ऐसे में यह कहना आसान नहीं होता कि हम बेयर मार्केट में हैं या बेयर मार्केट से बाहर निकल रहे हैं। साधारणतः गिरावट में चल रहे बाजार को बेयर मार्केट तब कहते हैं, जब स्टॉक/कमोडिटी की कीमतें उनकी पिछली ऊंचाई से 20 फीसदी से ज्यादा गिर जाती हैं

bitcoin, cryptocoin, digital money

नई दिल्ली। हर बाजार की तरह क्रिप्टोकरेंसी बाजार में भी उतार-चढ़ाव देखा जाता है। इस बाजार में उतार-चढ़ाव कुछ ज्यादा ही होता है। जो लोग शेयर मार्केट की शब्दावली जानते है उन्हें तो पता ही होगा कि बाजार में उतार-चढ़ाव को बुल (Bull) और बेयर (Bear) कहते हैं। बाजार में वॉलेटिलिटी साल में कभी भी देखी जा सकती है। ऐसे वक्त में सुरक्षित फैसले लेना किसी के लिए भी मुश्किल हो सकता है। खासकर उनके लिए जो क्रिप्टो के निवेशक हैं।

bitcoin, cryptocoin, digital money

क्रिप्टो मार्केट में बहुत ज्यादा वॉलेटाइल देखा जाता है, ऐसे में यह कहना आसान नहीं होता कि हम बेयर मार्केट में हैं या बेयर मार्केट से बाहर निकल रहे हैं। साधारणतः गिरावट में चल रहे बाजार को बेयर मार्केट तब कहते हैं, जब स्टॉक/कमोडिटी की कीमतें उनकी पिछली ऊंचाई से 20 फीसदी से ज्यादा गिर जाती हैं, शेयरों पर निगेटिव रिटर्न मिलने लगता है।

cryptocurrency

सही वक्त पर करें निवेश

जिस समय मार्केट में गिरावट दर्ज की जा रही हो, उस टाइम आप कुछ निवेश कर सकते हैं। यह आपकी लॉन्ग टर्म तक मदद कर सकता है। बेयर मार्केट के साथ दिक्कत यह भी होती है कि आपको नहीं पता होता है कि गिरावट कब तक रह सकती है, या फिर कीमतों में कहां तक गिरावट देखी जा सकती है।

bitcoin, cryptocoin, digital money

क्रिप्टोकरेंसी प्रोफाइल का डाइवर्स बेयर मार्केट क्या है? रखें

यदि आप अभी तक सिर्फ एक ही करेंसी में निवेश कर रहे हैं, तो बेयर मार्केट में एक्सपेरिमेंट करने का अच्छा मौका मिल सकता है। ऐसा जरूरी नहीं है कि हर क्रिप्टोकरेंसी की कीमत में गिरावट आती है।

Cryptocurrency

लॉन्ग टर्म का सोचें

बेयर मार्केट में आप लॉन्ग टर्म की सोचकर निवेशक अच्छा फैसला ले सकते हैं। ऐसे वक्त में जब कीमतें कम हैं और आप उनमें निवेश करते हैं, तो बेयर मार्केट क्या है? इसका लॉन्ग टर्म में फायदा देखा जा सकता है। ऐसे वक्त में शॉर्ट टर्म के लिए निवेश करना ज्यादा फायदे का सौदा नहीं हो सकता।

रेटिंग: 4.31
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 225
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *