शुरुआती लोगों की मुख्य गलतियाँ

डिविडेंड कब मिलता है?

डिविडेंड कब मिलता है?

स्टॉक मार्केट में ये कंपनी हुई Ex-Dividend, निवेशकों को प्रति शेयर होगा ₹65 का फायदा

R Ashwin: आर अश्विन ने टीम इंडिया के इन दो खिलाड़ियों पर लगाए गंभीर आरोप, टी20 वर्ल्ड कप की हार का फोड़ा ठीकरा!

शेयर मार्केट (Share Market) में पोजीशनल निवेशकों को शानदार रिटर्न के साथ कई बार डिविडेंड, बोनस आदि का फायदा मिलता रहता है। Procter & Gamble Hygiene and Health Care लिमिटेड के बोर्ड ने योग्य निवेशकों को 65 रुपये का डिविडेंड देने का फैसला किया है। कंपनी आज (4 नवबंर 2022) को स्टॉक मार्केट (Stock Market) में एक्स-डिविडेंड (Ex-Dividend) के रूप में ट्रेड कर रही है। आइए जानते हैं कि कब निवेशकों को डिविडेंड (Dividend) का भुगतान किया जाएगा।

23 अगस्त को कंपनी ने एक्सचेंज को दी जानकारी में बताया, “हमें यह बताते हुए खुशी हो रही है कि बोर्ड ऑफ डॉयरेक्टर्स ने 10 रुपये के फेस वैल्यू वाले शेयरों पर 65 रुपये का डिविडेंड देने का फैसला किया है। कंपनी की तरफ से योग्य निवेशकों को 15 नवंबर 2022 से 13 दिसंबर 2022 के बीच डिविडेंड का भुगतान किया जाएगा।” बता दें, इस एफएमसीजी कंपनी के शेयर शुक्रवार को लगभग एक प्रतिशत की गिरावट के साथ बीएसई में 13,917 रुपये पर ट्रेड कर रहे थे।

इस साल कैसा रहा है कंपनी का प्रदर्शन?

साल 2022 में अबतक के प्रदर्शन ने निवेशकों को निराश किया है। इस दौरान कंपनी के शेयरों की कीमतों में 10 प्रतिशत तक की गिरावट देखने को मिली है। वहीं, बीते 1 साल की बात करें तो इस दौरान कंपनी के शेयर का भाव 3 प्रतिशत तक नीचे आ गया है। हालांकि, 6 महीने पहले जिस किसी निवेशक ने इस कंपनी पर दांव लगाया होगा उसका रिटर्न 4 प्रतिशत तक बढ़ गया होगा।

किस ओर इशारा कर रहे हैं तिमाही आंकड़े?

सितंबर तिमाही के दौरान कंपनी का नेट प्रॉफिट 29 प्रतिशत घटकर 154 करोड़ रुपये ही रहा है। वहीं, जुलाई से जून के सालाना पीरियड के दौरान कंपनी को टैक्स भुगतान करने के बाद 218 करोड़ रुपये का फायदा हुआ था।

Dividend stocks: इन 11 शेयरों में डिविडेंड पाने का आखिरी मौका, अगले हफ्ते हैं इनका रिकॉर्ड डेट

एक्स-डिविडेंड तारीख वह होती है, जिससे पहले शेयर खरीदने पर ही निवेशकों को डिविडेंड का फायदा मिलता है

अगले हफ्ते करीब 11 शेयरों की एक्स-डिविडेंड तारीख है। एक्स-डिविडेंड तारीख वह होती है, जिससे पहले शेयर खरीदने पर ही निवेशकों को डिविडेंड का फायदा मिलता है। इस तारीख के बाद शेयर खरीदने वाले नए बायर को डिविडेंड नहीं मिलता है। ऐसे में अगर आप इन कंपनियों के शेयरों को खरीदने की सोच रहे हैं, तो आप इन्हें एक्स-डिविडेंड तारीख से पहले खरीदें, ताकि आपको भी डिविडेंड का लाभ मिल सके। आइए जानते हैं अगले हफ्ते किन शेयरों की एक्स-डिविडेंड तारीख है-

1. Faze Three

फेज थ्री के बोर्ड ने 10 रुपये फेस वैल्यू वाले प्रत्येक शेयर पर 0.50 रुपये के डिविडेंड का ऐलान किया है। इसके लिए रिकॉर्ड डेट मंगलवार 7 जून तय की गई है और 6 जून को इसकी एक्स-डिविडेंड तारीख है। गुरुवार को फेज थ्री के शेयरों में 4.99 फीसदी का अपर सर्किट लगा और यह 331.25 रुपये के स्तर पर बंद हुए।

2. Aurobindo Pharma

संबंधित खबरें

Multibagger Stock: इस सरकारी कंपनी ने 9 महीने में ही चार गुना बढ़ा दी पूंजी, शेयर पहुंचे रिकॉर्ड ऊंचाई पर

मार्केट नए शिखर के लिए बना रहा बेस, अगले 2 हफ्ते में लगा सकता है नया हाई: गोल्डीलॉक्स के गौतम शाह

HUDCO का शेयर नवंबर में 40% चढ़ा, मजबूत आउटलुक के दम पर 52 हफ्ते के हाई पर पहुंचा

अरबिंदो फार्मा के बोर्ड डिविडेंड कब मिलता है? ने प्रत्येक शेयर पर 4.50 के इक्विटी शेयर का ऐलान किया है। इसके लिए रिकॉर्ड डेट मंगलवार 7 जून तय की गई है और 6 जून को इसकी एक्स-डिविडेंड तारीख है। गुरुवार को अरबिंदो फार्मा के शेयर 1.20% गिरकर 534.20 रुपये पर बंद हुए।

3. INEOS Styrolution India

INEOS स्टाइरॉल्यूशन इंडिया के बोर्ड ने वित्त वर्ष 2022 के लिए प्रत्येक इक्विटी शेयर पर 105 रुपये के दूसरे अंतरिम डिविडेंड की सिफारिश की है। इसके लिए रिकॉर्ड डेट 7 जून और एक्स-डिविडेंड डेट 6 जून तय की गई है। गुरुवार को कंपनी के शेयर 1.92 फीसदी की उछाल के साथ 926.00 रुपये पर बंद हुए।

4. Pearl Global Industries

पर्ल ग्लोबल ने वित्त वर्ष 2022 के लिए प्रत्येक इक्विटी शेयर पर 5 रुपये के अंतरिम डिविडेंड का ऐलान डिविडेंड कब मिलता है? किया है। इसके लिए रिकॉर्ड डेट 8 जून और एक्स-डिविडेंड डेट 7 जून तय की गई है। कंपनी के शेयर गुरुवार को 1.11% गिरकर 425.00 रुपये पर बंद हुए।

5. India Motor Parts and Accessories

इंडिया मोटर पार्ट्स एंड एसेसरीज ने वित्त वर्ष 2022 के लिए प्रत्येक इक्विटी शेयर पर 13 रुपये के अंतरिम डिविडेंड का ऐलान किया है। इसके लिए रिकॉर्ड डेट 10 जून और एक्स-डिविडेंड डेट 9 जून तय की गई है। कंपनी के शेयर गुरुवार को NSE पर 2.08% उछलकर 795.00 रुपये पर बंद हुए।

6. Kansai Nerolac Paints

कानसाई नेरोलेक पेंट्स ने वित्त वर्ष 2022 के लिए प्रत्येक इक्विटी शेयर पर 1 रुपये के फाइनल डिविडेंड डिविडेंड का ऐलान किया है। इसके अलावा कंपनी ने नवंबर में 1.25 रुपये के अंतरिम डिविडेंड का ऐलान भी किया था। इस तरह वित्त वर्ष 2022 के लिए इसने कुल 2.25 रुपये के डिविडेंड का ऐलान किया है। फाइनल डिविडेंड के भुगतान के लिए रिकॉर्ड डेट 9 जून डिविडेंड कब मिलता है? और एक्स-डिविडेंड डेट 8 जून तय की गई है। कंपनी के शेयर गुरुवार को NSE पर 2.49% उछलकर 413.00 रुपये पर बंद हुए।

7. Welspun Corp

वेल्सपुन कॉरपोरेशन ने प्रत्येक इक्विटी शेयर पर 5 रुपये के डिविडेंड देने का ऐलान किया है। इसके लिए रिकॉर्ड डेट 10 जून तय की गई है और 9 जून को इसकी एक्स-डिविडेंड तारीख होगी। कंपनी के शेयर गुरुवार को NSE पर 2.37 फीसदी उछलकर 230.15 रुपये पर बंद हुए।

8. Craftsman Automation

क्राफ्ट्समैन ऑटोमेशन ने वित्त वर्ष 2022 के लिए प्रत्येक इक्विटी शेयर पर 3.75 रुपये के अंतरिम डिविडेंड का ऐलान किया है। इसके लिए रिकॉर्ड डेट 10 जून और एक्स-डिविडेंड डेट 9 जून तय की गई है। कंपनी के शेयर गुरुवार को NSE पर 0.13% उछलकर 2,378 रुपये पर बंद हुए।

9. Elecon Engineering Company

एलीकॉन इंजीनियरिंग कंपनी ने वित्त वर्ष 2022 के लिए प्रत्येक इक्विटी शेयर पर 1 रुपये के फाइनल डिविडेंड का ऐलान किया है। इसके लिए रिकॉर्ड डेट 10 जून और एक्स-डिविडेंड डेट 9 जून तय की गई है। कंपनी के शेयर गुरुवार को NSE पर 13.26% उछलकर 229.80 रुपये पर बंद हुए।

10. Asian Paints

एशियन पेंट्स ने वित्त वर्ष 2022 के लिए प्रत्येक इक्विटी शेयर पर 15.50 रुपये के फाइनल डिविडेंड का ऐलान किया है। इसके लिए रिकॉर्ड डेट 10 जून और एक्स-डिविडेंड डेट 9 जून तय की गई है। कंपनी के शेयर गुरुवार को NSE पर 1.94% उछलकर 2,907.75 रुपये पर बंद हुए।

11. Shree Digvijay Cement Company

श्री दिग्विजय सीमेंट कंपनी ने वित्त वर्ष 2022 के लिए प्रत्येक इक्विटी शेयर पर 2 रुपये के फाइनल डिविडेंड का ऐलान किया है। इसके लिए रिकॉर्ड डेट 13 जून और एक्स-डिविडेंड डेट 10 जून तय की गई है। कंपनी के शेयर गुरुवार को NSE पर 2.04% उछलकर 65.10 रुपये पर बंद हुए।

MoneyControl News

MoneyControl News

First Published: Jun 02, 2022 10:34 PM

हिंदी में शेयर बाजार, Stock Tips, न्यूज, पर्सनल फाइनेंस और बिजनेस से जुड़ी खबरें सबसे पहले मनीकंट्रोल हिंदी पर पढ़ें. डेली मार्केट अपडेट के लिए Moneycontrol App डाउनलोड करें।

Dividend kya hota hai?

डिविडेंड का हिंदी मतलब लाभांश होता है | लाभांश दो शब्दों से मिलकर बना है (लाभ + अंश) यानी कि प्रॉफिट का पार्ट | जब कोई कंपनी अपने नेट प्रॉफिट का हिस्सा अपने शेयर होल्डर के साथ शेयर करती है, तो उसे डिविडेंड कहते हैं | डिविडेंड देना या ना देना यह कंपनी के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर तय करते हैं | डिविडेंड हमेशा फेस वैल्यू पर ही मिलता है, ना कि शेयर के प्राइस पर |

उदाहरण के लिए मान लीजिए xyz नाम की कोई कंपनी है जिसके एक शेयर की कीमत ₹1,000 है, और कंपनी का फेस वैल्यू ₹10 है, और आपके पास उस कंपनी के 20 शेयर है | तो इस हिसाब से देखें तो 10 * 20 = ₹200 आपको डिविडेंड के रूप में मिलेंगे |

ध्यान दें – ज्यादातर कंपनी अपने फेस वैल्यू को ₹10 ही रखती हैं | इसका सीधा कारण है, कि कैलकुलेशन करने में आसानी रहती है | पर कुछ कंपनी के फेस वैल्यू इससे कम और ज्यादा भी हो सकते हैं |

8432

Dividend के टाइप

Interim Type DividendFinal Type Dividend
जब कंपनी के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स कंपनी का quarter रिजल्ट डिस्कस करते हैं, और अगर कंपनी ने अच्छा परफॉर्म किया है | तब आपको जो डिविडेंड मिलता है, उसे interim डिविडेंड कहते है, यह साल में एक बार भी मिल सकता है या कई बार भी मिल सकता है |जब कंपनी के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर कंपनी की एनुअल रिपोर्ट / रिजल्ट AGM(Annual General Meeting) में डिस्कस करते हैं, और अगर कंपनी ने अच्छा परफॉर्मेंस किया है, तब आपको जो डिविडेंड मिलता है, उसे final डिविडेंड कहते है |
Interim type में डिविडेंड कम मिलता है, Final type डिविडेंड के कंपैरिजन में |Final type में डिविडेंड ज्यादा मिलता है, Interim type डिविडेंड के कंपैरिजन में |
ध्यान दें – Interim type डिविडेंड में कंपनी आपसे डिविडेंड वापस भी ले सकती है, अगर कंपनी को फाइनेंसियल ईयर में लॉस होता है | अब आप सोचेंगे डिविडेंड तो हमेशा बैंक अकाउंट में दिया जाता है, तो ऐसे में कंपनी आपसे डिविडेंड वापस कैसे ले सकती है? तो हम आपको बता दें कि अगर आपने कंपनी के शेयर होल्ड करके रखे हैं, तो कंपनी आपके शेयर को कम करके अपना लॉस पूरा करती है |Final type डिविडेंड में कंपनी आपसे डिविडेंड वापस नहीं ले सकती |

Dividend का लाभ कैसे लें ?

डिविडेंड का लाभ पाने के लिए हमें डिविडेंड का प्रोसेस जानना होगा |

Announcement date / Dividend Declaration Dateइस दिन कंपनी डिविडेंड देने की घोषणा करती है |
Record dateइस दिन कंपनी अपने शेरहोल्डर्स के नाम अपने रिकॉर्ड बुक में चेक करती हैं | आमतौर पर डिविडेंड डिक्लेरेशन डेट और रिकॉर्ड डेट के बीच का अंतर 10 या 10 से ज्यादा दिनों का रहता है |
Dividend date / Ex – dividend date / cum dividendइस दिन तक आपको कंपनी के शेयर खरीदने होते हैं, यह एक लास्ट डेट की तरह है | आमतौर पर या रिकॉर्ड डेट से 01 या 02 दिन की पहले की डेट रहती है |
Payment dateइस दिन कंपनी के द्वारा डिविडेंड दिया जाता है | आमतौर पर रिकॉर्ड डेट से 15 या 20 दिनों के बाद की डेट रहती है |

उदाहरण के लिए मान लीजिए – किसी xyz कंपनी ने, किसी महीने की 01 तारीख को डिविडेंड देने की घोषणा की | तो इस तरह मान लीजिए उसकी रिकॉर्ड डेट होगी 12 तारीख, डिविडेंड डेट होगी 10 तारीख, और पेमेंट डेट होगी 30 तारीख |

Dividend का लाभ लेने के लिए किन बातों को ध्यान में रखना चाहिए?

डिविडेंड का लाभ लेने के लिए हमें ex-dividend date से पहले शेयर को खरीद लेना चाहिए |
डिविडेंड पर शेयर के हिसाब से मिलता है, मतलब आपके पास जितने ज्यादा शेयर होंगे, उतना ही ज्यादा आप डिविडेंड का लाभ उठा सकते हैं |
उदाहरण के लिए – मान लीजिए किसी xyz कंपनी के 50 शेयर आपके पास हैं | और कंपनी ने ₹10 के हिसाब से डिविडेंड देने की घोषणा की, तो इस तरह 10 * 50 = ₹500 आपने डिविडेंड से कमाए |

कुछ कंपनी dividend देती है पर कुछ नहीं ऐसा क्यों ?

इसके दो कारण है – जब प्रॉफिटेबल कंपनी को लगता है, कि नेट प्रॉफिट को कंपनी की ग्रोथ में लगाया जा सकता है | तो कंपनी डिविडेंड नहीं देती या कम देती है, और जब प्रॉफिटेबल कंपनी को लगता है, कि नेट प्रॉफिट को कंपनी की ग्रोथ में लगाना मुश्किल है | तब वह डिविडेंड देती है |

Dividend Yield क्या होता है?

डिविडेंड यील्ड एक तरह का मेथड है जिससे हम यह जान सकते हैं, की किसी कंपनी ने कितना ज्यादा या कम डिविडेंड दिया है | इसका यूज करके हम बहुत ही आसानी से दो कंपनी का कंपैरिजन कर सकते हैं |

डिविडेंड यील्ड का फार्मूला होता है – Dividend per share/Current market price of one share *100

उदाहरण के डिविडेंड कब मिलता है? लिए मान लीजिए – एक xyz नाम की कंपनी है, और एक abc नाम की कंपनी है | आइए दोनों का कंपैरिजन करते हैं, कि कौन सी कंपनी हमें ज्यादा डिविडेंड कमाने का मौका दे रही है, और कौन सी कम |

xyz कंपनीabc कंपनी
xyz कंपनी का शेयर प्राइस ₹1,000 है, और फेस वैल्यू ₹10 है |
इस कंपनी ने 200% डिविडेंड देने की घोषणा की है |
abc कंपनी का शेयर प्राइस ₹3000 है, और फेस वैल्यू ₹10 ही है |
इस कंपनी ने भी 200% डिविडेंड देने की घोषणा की है |
आइए इसे डिविडेंड यील्ड फॉर्मूले से समझते हैं –
xyz कंपनी का डिविडेंड यील्ड होगा = 10/1,000*100 = 1%abc कंपनी का डिविडेंड यील्ड होगा = 10/3,000*100 = 0.66%

तो इस तरह हम देख सकते हैं, कि abc कंपनी का डिविडेंड यील्ड कम है, और xyz कंपनी का डिविडेंड यील्ड ज्यादा है |

ध्यान दें – कई बार मार्केट का प्राइस कम होने की वजह से डिविडेंड बढ़ जाता और जब मार्केट का प्राइस ज्यादा होता है, तो डिविडेंड कम हो जाता है | इसलिए हमें कंपनी की भी नॉलेज होनी चाहिए | ऐसा तो नहीं कि हमने डिविडेंड यील्ड से देखा कि कंपनी अच्छा डिविडेंड दे रही है | पर सच में ऐसा हो ही ना | यह सिर्फ शेयर का प्राइस घटने की वजह से हुआ हो | इसलिए कंपनी की भी नॉलेज होनी चाहिए |

ध्यान दें – मार्केट प्राइस और शेयर प्राइस दोनों एक ही होता है |

Ex-Dividend Stocks: अक्टूबर माह में इन 5 कंपनियों के शेयरों की एक्स डिविडेंड डेट, देखें पूरी डिटेल्स

Ex-Dividend Stocks: अक्टूबर 2022 में कंपनियां अपने तिमाही नतीजों की घोषणा करती हैं. वही निवेशकों को डिविडेंड व बोनस शेयर की भी अपेक्षा होती है, जिससे उन्हें कमाई का एक और मौका मिलता है.

By: ABP Live | Updated at : 02 Oct 2022 10:17 PM (IST)

एक्स डिविडेंड स्टॉक्स

Ex-Dividend Stocks This Month October 2022 : अगर आप स्टॉक मार्केट में अक्सर पैसा लगाते है, तो आपको एक्स डिविडेंड डेट के बारे में पता होगा. आपको बता दें कि अक्टूबर माह 2022 में कंपनियां अपने तिमाही नतीजों की घोषणा करती हैं. वही निवेशकों को डिविडेंड व बोनस शेयर की भी अपेक्षा होती हैं, जिससे उन्हें कमाई का एक और मौका मिलता है.

इन कंपनियों की है डेट

मालूम हो कि देश में बाजार के उठा-पटक का माहौल बना हुआ है, लेकिन इसके बीच डिविडेंड के जरिए कमाई का मौका निवेशकों को थोड़ी राहत दे सकता है. इस खबर में हम आपको ऐसे 5 शेयर कंपनियों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिनके एक्स-डिविडेंड इस महीने आने वाले है.

ICICI Lombard: आईसीआईसीआई लोम्बार्ड कंपनी ने 28 अक्टूबर 2022 को रिकॉर्ड डेट के रूप में फिक्स कर दिया है. यह शेयर 27 तारीख को एक्स-डिविडेंड हो जाएगा. कंपनी वित्त वर्ष 2021-22 में 5 रुपये का फाइनल डिविडेंड दिया था.

News Reels

ICICI Securities: आईसीआईसीआई सिक्योरिटीज कंपनी ने डिविडेंड के लिए 1 नवंबर 2022 को रिकॉर्ड डेट के रूप में तय किया है. इसलिए यह शेयर 31 अक्टूबर को एक्स-डिविडेंड हो जाएगा. डिविडेंड की रकम को लेकर कंपनी ने फिलहाल कोई बयान नहीं दिया है.

Asian Paints: एशियाई पेंट्स के शेयर भी 31 अक्टूबर को एक्स-डिविडेंड होने जा रहे है. कंपनी की बोर्ड मीटिंग 20 अक्टूबर को जिसमें डिविडेंड संबंधी डिटेल्स पर चर्चा होगी.

Jai Corp: जय कॉर्प कंपनी ने 0.50 रुपये के डिविडेंड का ऐलान किया गया है. इस शेयर की फेस वैल्यु 11 रुपये है. इसके लिए रिकॉर्ड डेट 21 अक्टूबर है. यानी 20 डिविडेंड कब मिलता है? अक्टूबर को ये शेयर एक्स-डिविडेंड होगा.

Angel One: एंजेल वन कंपनी ने डिविडेंड की रकम की फिलहाल घोषणा नहीं की है. लेकिन कंपनी ने 21 अक्टूबर को इसकी रिकॉर्ड डेट फिक्स डिविडेंड कब मिलता है? कर दी है. 20 तारीख को ये शेयर भी एक्स-डिविडेंड होने की उम्मीद है.

ये भी पढ़ें-

Published at : 02 Oct 2022 10:17 PM (IST) Tags: BSE Stocks Stocks Market NSE Ex डिविडेंड कब मिलता है? Dividend Stocks Dividend Date हिंदी समाचार, ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें abp News पर। सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट एबीपी न्यूज़ पर पढ़ें बॉलीवुड, खेल जगत, कोरोना Vaccine से जुड़ी ख़बरें। For more related stories, follow: Business News in Hindi

पर्सनल फाइनेंस: म्यूचुअल फंड में रिटर्न पाने के मिलते हैं 2 ऑप्शन, यहां जानें ग्रोथ और डिविडेंड में कौन-सा विकल्प आपके लिए रहेगा सही

ग्रोथ ऑप्शन में पैसा लगातार स्कीम में ही रहता है - Dainik Bhaskar

अगर आप म्यूचुअल फंड में निवेश करने का प्लान बना रहे हैं तो इससे पहले आपका इस स्कीम के बारे में सही से जानना बहुत जरूरी है। क्योंकि स्कीम में निवेश करने से पहले आपको तय कर लेना चाहिए कि स्कीम से फायदा पाने के लिए आपको कौन सा ऑप्शन चुनना है। निवेशकों को म्यूचुअल फंड में दो तरह के ऑप्शन मिलते हैं। इनमें पहला है ग्रोथ और दूसरा है डिविडेंड पे आउट (डिविडेंड)। जहां ग्रोथ ऑप्शन में पैसा लगातार स्कीम में रहता है, वहीं डिविडेंड ऑप्शन में कंपनियां समय-समय पर लाभांश के रूप में फायदा बांटती रहती हैं। हम आपको इनके बारे में बता रहे हैं।

ग्रोथ ऑप्शन क्या है?
यह ऑप्शन चुनने का मतलब है कि आपकी स्कीम पर मिलने वाला डिविडेंड ( लाभांश) आपको नहीं मिलता। ये फायदा आपको तभी मिलेगा जब आप अपनी यूनिट्स रिडीम करते हैं। यानी उन्हें बेचते हैं। इसका फायदा यह है कि इस विकल्प में आपका निवेश बढ़ता रहता है।

इसे उदाहरण से समझें
उदाहरण के लिए अगर आपने 10 रुपए एनएवी की दर से म्यूचुअल फंड की 1000 यूनिट्स खरीदी है और आप इसे दो साल बाद 15 रुपए की एनएवी पर बेचते हैं तो 5 हजार रुपए इस निवेश पर आपका रिटर्न हुआ। यानी आपको 5000 रुपए का फायदा होगा।

किसे चुनना चाहिए ये ऑप्शन?
लंबी अवधि के लिए निवेश करने वालों के लिए ये ऑप्शन सही रहता है। क्योंकि इसमें रिटर्न पर बार-बार कैपिटल गेन पर टैक्स नहीं देना पड़ता। इसके अलावा जब आप ग्रोथ ऑप्शन चुनते हैं तो बीच में पैसा न निकालने के कारण लंबी अवधि में रिटर्न बढ़ जाता है। इसमें निवेशक को कंपाउंडिंग का भी फायदा मिलता है। इसलिए यह विकल्प उन निवेशकों के लिए सही है, जिन्हें अपने निवेश पर नियमित आय नहीं चाहिए। जो निवेशक पैसे पर ज्यादा रिटर्न चाहते हैं उन्हें ग्रोथ ऑप्शन चुनना चाहिए।

डिविडेंड पे आउट ऑप्शन क्या है?
डिविडेंड ऑप्शन में निवेशक को म्यूचुअल फंड हाउस समय-समय पर डिविडेंड का भुगतान करती है। ये फंड हाउस के ऊपर है कि वो अपने शेयरधारकों को कब और कितना फायदा देती है।

किसके लिए सही है ये विकल्प
यह विकल्प ऐसे निवेशकों के लिए सही है, जो छोटी अवधि के लिए म्यूचुअल फंड की स्कीम में पैसा लगाना चाहते हैं। इसके अलावा जिन्हें नियमित आय की जरूरत होती है उनके लिए ये ऑप्शन सही है। हालांकि इस स्कीम में आपके पैसे की वैल्यू ग्रोथ ऑप्शन की तुलना में कम बढ़ती है। क्योंकि इसमें आपको कंपाउंडिंग का फायदा उतना नहीं मिलता है, जितना ग्रोथ ऑप्शन चुनने पर मिलता है।

कब मिलता है डिविडेंड?
डिविडेंड तब दिया जाता है जब कंपनियों को फायदा होता है और वो अपने निवेशकों को अपना मुनाफा बांटना चाहती है। इसका कोई समय या नियम नहीं है कि कब और कितना दिया जाएगा। ये कंपनी के ऊपर है कि वो अपने शेयरधारकों को कब और कितना फायदा देती है।

डिविडेंड में मिलता है री-इन्वेस्ट का ऑप्शन
डिविडेंड में निवेशक को डिविडेंड री-इन्वेस्ट का ऑप्शन भी मिलता है। डिविडेंड कब मिलता है? इसमें निवेशक को ग्रोथ और डिविडेंड दोनों का ही फायदा मिलता है। इसमें डिविडेंड की रकम निवेशक की जेब में नहीं जाती है। उसके बदले निवेशक को यूनिट्स आवंटित कर दी जाती है।

रेटिंग: 4.50
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 602
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *